English हिंदी
जिला पुरातत्व संग्रहालय टिकमगढ़
Gujri-Mahal-Museum

ओरछा (जिला टीकमगढ) झाँसी से 15 कि.मी. की दूरी पर बेतवा नदी के किनारे स्थित है। 16वी शती के प्रारम्भ में बुन्देला शासकों ने ओरछा को अपनी राजधानी बनाया और यहाँ अनेक भवनों का निर्माण करवाया। बुन्देला राजा वीरसिंह देव (1605-1627 ई.) ने जहागीरमहल का निर्माण करवाया। जहाँगीर महल में वर्ष 1990 में इस संग्रहालय का प्रारम्भ किया गया। इस संग्रहालय में 31 पुरावशेष प्रदर्शित है। जिनमें 13 पाषाण प्रतिमायें एवं 3 हाथी प्रतिमाऐं व 9 सतिस्तंभ के अतिरिक्त 6 शिलालेख भी प्रदर्शित है। इस

संग्रहालय के खुलने का समय दिन में 10 बजे से शाम 5 बजे तक रहता है। सोमवार व शासकीय अवकाश में बंद रहता है।